भिवानी में स्थित तोशाम की बारादरी या पृथ्वीराज चौहान की कचहरी

तोशाम की बारादरी, भिवानी जिले के तोशाम कस्बे में स्थित है। जो अरावली पर्वत श्रंखला में बसा हुआ एक छोटा-सा शहर है। तो आइए पढ़ते है इसके बारे में रोचक तथा महत्वपूर्ण तथ्य, अगर कुछ तथ्य रह जाते है आप हमे कमेन्ट जरूर कीजिए


तोशाम की बारादरी

तोशाम की बारादरी (हरियाणा के किले -Ancient fort of Haryana)
तोशाम की बारादरी

यह बारादरी कस्बे से बाहर एक पहाड़ी की चोटी बड़े ही शान से कस्बे के प्राचीन रूप को बयां करती है।  इसे पृथ्वीराज चौहान की कचहरी के नाम से भी जाना जाता है।

इस बारादरी के मध्य एक गुंबद बना है तथा गुंबद के चारों ओर चार कमरे बने है। प्रत्येक कमरे के चार दरवाजे बने है जिनमें से तीन दरवाजे बाहर की तरफ तथा एक दरवाजा गुंबद में खुलता है।

इस बारादरी में प्रवेश करने के लिए कुल बारह दरवाजे (प्रत्येक कमरे के तीन) है शायद इसीलिए इसका नाम बारादरी कहा जाने लगा। इसके किसी भी प्रवेश द्वार पर दरवाजा नहीं लगाया गया।

इसे हम किसी प्रकार का किला तो नहीं कह सकते लेकिन यह तोशाम शहर की एकमात्र एतिहासिक इमारत है।

ये भी पढ़ें :

हरियाणा के किले

0 0 votes
Article Rating

Neelam Chaudhary

Author at Help2Youth
Subscribe
Notify of
guest

1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments