भारत मे यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

विषय सूची

प्रिय पाठकों, आज हम आपके लिए लेकर आए है भारत मे यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India), जो पिछले जीतने भी पेपर हुए है उन सभी मे कोई न कोई एक question आया हुआ है और आगे भी आने वाले HSSC व India level के सभी Exam मे यह प्रश्न आएंगे जो आपके लिए बहुत ही  महत्वपूर्ण है इसीलिए भारत मे यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India) के इन प्रश्नों को आप आसानी से याद कर सकते है

भारत मे यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

इस लेख मे हम आपको राज्य अनुसार विश्व धरोहर स्थल के बारे मे अवगत करवाएंगे, अभी तक कुल 40 विश्व धरोहर स्थल है जिसमे 32 तो मानव निर्मित व 7 प्राकृतिक व 1 मिश्रित विश्व धरोहर स्थल है जिनका वर्णन नीचे दर्शाया गया है

क्र. सं.  विश्व धरोहर स्थल का नाम राज्य/क्षेत्र का नाम घोषित वर्ष प्रकार
1. आगरा का किला उत्तर प्रदेश 1983 मानव निर्मित
2. एलोरा गुफाएं महाराष्ट्र 1983 मानव निर्मित
3. अजंता गुफाएं महाराष्ट्र 1983 मानव निर्मित
4. ताजमहल उत्तर प्रदेश 1983 मानव निर्मित
5. महाबलीपुरम में स्मारक तमिल नाडु 1984 मानव निर्मित
6. सूर्य मंदिर, कोणार्क उड़ीसा 1984 मानव निर्मित
7. काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान असम 1985 प्राकृतिक
8. केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान राजस्थान 1985 प्राकृतिक
9. मानस वन्यजीव अभयारण्य असम 1985 प्राकृतिक
10. खजुराहो स्मारकों का समूह मध्य प्रदेश 1986 मानव निर्मित
11. फतेहपुर सीकरी उत्तर प्रदेश 1986 मानव निर्मित
12. हम्पी में स्मारकों का समूह कर्नाटक 1986 मानव निर्मित
13. गोवा के चर्च और कॉन्वेंट गोवा 1986 मानव निर्मित
14. पट्टादकल के स्मारकों का समूह कर्नाटक 1983 मानव निर्मित
15. एलीफेंटा गुफाएं महाराष्ट्र 1987 मानव निर्मित
16. सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान पश्चिम बंगाल 1987 प्राकृतिक
17. चोल मंदिर तमिल नाडु 1987, 2004 मानव निर्मित
18. नंदा देवी और फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान उत्तराखंड 1988, 2005 प्राकृतिक
19. कैपिटल कॉम्प्लेक्स चंडीगढ़ 2016 मानव निर्मित
20. सांची के बौद्ध स्मारक मध्य प्रदेश 1989 मानव निर्मित
21. हुमायूँ का मकबरा दिल्ली 1993 मानव निर्मित
22. कुतुब मीनार और उसके स्मारक दिल्ली 1993 मानव निर्मित
23. भारत के पर्वतीय रेलवे विभिन्न भारतीय राज्य 1999, 2005, 2008 मानव निर्मित
24. बोधगया में महाबोधि मंदिर परिसर बिहार 2002 मानव निर्मित
25. भीमबेटका की गुफाएँ मध्य प्रदेश 2003 मानव निर्मित
26. चंपानेर-पावागढ़ पुरातत्व पार्क गुजरात 2004 मानव निर्मित
27. छत्रपति शिवाजी टर्मिनल महाराष्ट्र 2004 मानव निर्मित
28. लाल किला परिसर दिल्ली 2007 मानव निर्मित
29. जंतर मंतर, जयपुर राजस्थान 2010 मानव निर्मित
30. पश्चिमी घाट विभिन्न भारतीय राज्य 2012 प्राकृतिक
31. राजस्थान के पहाड़ी किले राजस्थान 2013 मानव निर्मित
32. रानी-की-वाव (रानी की बावड़ी) पाटन, गुजरात 2014 मानव निर्मित
33. ग्रेट हिमालयन राष्ट्रीय उद्यान हिमाचल प्रदेश 2014 प्राकृतिक
34. खांगचेंदज़ोंगा राष्ट्रीय उद्यान सिक्किम 2016 मिश्रित
35. नालंदा महाविहार का पुरातत्व स्थल बिहार 2016 मानव निर्मित
36. अहमदाबाद का ऐतिहासिक शहर गुजरात 2017 मानव निर्मित
37. मुंबई के विक्टोरियन गोथिक महाराष्ट्र 2018 मानव निर्मित
38. जयपुर शहर राजस्थान 2019 मानव निर्मित
39. कालेश्वर (रामप्पा) मंदिर तेलंगाना 2021 मानव निर्मित
40. धोलावीरा गुजरात 2021 मानव निर्मित

राज्य अनुसार विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

यहाँ आपको बह्रत के राज्य अनुसार विश्व धरोहर के बारे मे विस्तारपूर्वक जानकारी देंगे, जिन्हे यूनेस्को द्वारा घोषित किया गया है तो आइए देखते है राज्य अनुसार विश्व धरोहर स्थल….

उत्तर प्रदेश के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

आगरा किला

यह उत्तरप्रदेश के आगरा में 1983 में स्थापित किया गया था यह मुगल साम्राज्य द्वारा सबसे महत्वपूर्ण स्मारक संरचनाओं में से एक है अकबर ने 1558 में इसे ऊनी राजधानी बनाया था इसके लगभग 2.5 किमी की दूरी पर प्रसिद्ध विश्व स्मारक ताज महल स्थित है

ताजमहल

यह भी उत्तरप्रदेश के आगरा जिले में युमना नदी के तट पर स्थापित किया गया है 1983 में यूनेस्को ने इसे विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया था और यह दुनिया के सात अजूबों में से एक है शाहजहाँ ने अपनी तीसरी पत्नी बेगम मुमताज़ की याद में महल बनवाया था

फतेहपुर सीकरी

यह उत्तरप्रदेश राज्य के आगरा जिले के पास फतेहपुर नगर में स्थित है वर्ष 1986 में इसे विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया इसे मुगल सम्राट अकबर ने 1569 में बसाया था यह चार मुख्य स्मारकों का गठन करता है। जामा मस्जिद, द बुलंद दरवाजा, पंच महल या जादा बाई का महल, दीवान-ए-खास और दीवान-ए-आम।

महाराष्ट्र के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

अजंता गुफाएं

यह महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में स्थित है इसे 1983 में विश्व धरोहर घोषित किया गया था यह बौद्ध स्मारक गुफा स्मारकों के लिए प्रसिद्ध है उस स्मारक पर बौद्ध धर्म के उल्लेख मिलते है यहाँ कुल 29 गुफाएं है

एलोरा गुफाएं

यह विश्व धरोहर 1983 में विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया था और बौद्ध, जैन और हिंदू के मंदिर बने हुए है जो बहुत प्रसिद्ध है यह भी महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में स्थित है ओर यहां पर 34 गुफाये है

एलिफंटा गुफाएं

यह महाराष्ट्र के धारपुरी में स्थित है इसे वर्ष 1987 को विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया इसमें कुल 7 गुफाएं भी जिनमे 5 हिन्दू व 2 बौद्ध गुफाएं है यहां पर ज्यादातर हिंदू धर्म की मूर्तियां पाई जाती है और ये सारी मूर्तिया पहाड़ो को काटकर बनाई गई है जो पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है

छत्रपति शिवाजी टर्मिनस

यह महाराष्ट्र की राजधानी मुम्बई का ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन है इसे जुलाई 2004 में विश्व धरोहर घोषित किया गया ताजमहल में बाद दूसरा सबसे अधिक छायाचित्रितस्मारक है, यह 2008 में मुंबई के लिए हवाई अड्डे के मुख्यालय, गॉथिक स्टाइल आर्किटेक्चर में आतंकी हमलों के लिए प्रसिद्ध।

पश्चिमी घाट

वर्ष 2012 में इसे विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया और  पश्चिमी घाट विश् में जैविक विविधता के 8 हॉट स्पॉट में से एक है पश्चमी घाट कर्नाटक, केरल, गोवा, तमिलनाडू, महाराष्ट्र से कन्याकुमारी तक समाप्त हो जाती है

यह विश्व के दस “हॉटेस्ट बायोडायवर्सिटी हॉटस्पॉट्स” के लिए प्रसिद्ध है

विक्टोरियन गोथिक और आर्ट डेको एनसेम्बल

इसे 30 जून 2018 को विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया यह महान सांस्कृतिक महत्व की 94 इमारतों का संग्रह है, जो मुंबई के फोर्ट एरिया में स्थित है

ओडिशा के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

सूर्य मंदिर
सूर्य मंदिर

सूर्य मंदिर

यह उड़ीसा राज्य के जगन्नाथ पुरी से 35 किमी दुर कोर्णाक नामक शहर में स्थित है वर्ष 1984 में इसे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया और यह मंदिर सूर्य देव को समर्पित है यह मन्दिर लाल रंग के बलुआ पथरो व काले रंग के ग्रेनाइट से बना हुआ है

Unesco World Heritage in India

तमिलनाडु के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

महाबलीपुरम

यह तमिलनाडू के कांचीपुरम जिले में स्थित है और महाबलीपुरम चेन्नई से 60 किमी दूर है यह अपने प्राचीन मंदिरों व सागर तट के लिए प्रसिद्ध है इस स्मारक का निर्माण पल्लव राजाओं द्वारा किया गया था 1984 में इसे विश्व धरोहर सूची के शामिल किया गया था

ग्रेट लिविंग चोल मंदिर

इसका निर्माण11वी व 12वी शताब्दी के दौरान चोल वंश के राजाओं ने करवाया था यह तमिलनाडु राज्यके।स्थित है वर्ष 1987 में इसे विश्व धरोहर घोषित किया गया था

नीलगिरी पर्वत रेल

यह तमिलनाडु राज्य की नीलगिरी पहाड़ियों पर स्थित है वर्ष 2005 मे यूनेस्को द्वारा इसे विश्व धरोहर के रूप के मान्यता दी थी इसे भारत की पर्वतीय रेल के नाम से भी जाना जाता है शाहरुख खान अभिनीत गाना दिल से इसी रेल पर फिल्माया गया था

पश्चिमी घाट

वर्ष 2012 में इसे विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया और  पश्चिमी घाट विश् में जैविक विविधता के 8 हॉट स्पॉट में से एक है पश्चमी घाट कर्नाटक, केरल, गोवा, तमिलनाडू, महाराष्ट्र से कन्याकुमारी तक समाप्त हो जाती है

यह विश्व के दस “हॉटेस्ट बायोडायवर्सिटी हॉटस्पॉट्स” के लिए प्रसिद्ध है

गोवा के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

चर्च एंड कन्वेंट्स ऑफ गोवा

वर्ष1986के यूनेस्को ने इसे विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया था यह स्मारक एशिया के लिए प्रसिद्ध है और एशिया में पहला लैटिन रीट मास इसी स्मारक पर स्थित है पुर्तगाल शाशन में इसका निर्माण करवाया गया था

कर्नाटक के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

हम्पी का स्मारक

यह कर्नाटक के विजयनगर जिले में स्थित है सन 1986 में इसे विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया था इस स्मारक।के अंतिम महान हिंदू साम्राज्य विजयनगर की राजधानी के अवशेष पाए गए थे इस स्थल में सबसे महत्वपूर्ण धरोहर स्मारक विरुपाक्ष मंदिर है।

पट्टकल स्मारक

यह कर्नाटक राज्य के बागलकोट जिले में स्थित है यह जिला मलप्रभा नदी के पास में है 1987 में इसे विश्व धरोहर सूची घोषित किया गया था यह स्मारक चालुक्य शैली के लिए प्रसिद्ध है इसमें कुल 10 मंदिर है जिसमे संगमेश्वर मंदिर काफी लोकप्रिय है और यहां का पापनाथ मंदिर वेसारा शैली में निर्मित है

पश्चिमी घाट

वर्ष 2012 में इसे विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया और  पश्चिमी घाट विश् में जैविक विविधता के 8 हॉट स्पॉट में से एक है पश्चमी घाट कर्नाटक, केरल, गोवा, तमिलनाडू, महाराष्ट्र से कन्याकुमारी तक समाप्त हो जाती है

यह विश्व के दस “हॉटेस्ट बायोडायवर्सिटी हॉटस्पॉट्स” के लिए प्रसिद्ध है

मध्यप्रदेश के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

खजुराहो का स्मारक

यह मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में स्थित है वर्ष 1986 में इसे विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया था यह स्मारक स्थल हिंदू और जैन मंदिरों के समूह के लिए बहुत प्रसिद्ध है वर्तमान में सबसे अधिक लोकप्रिय मन्दिर कन्दारिया महादेव मन्दिर है यहां पर ज्यादातर मंदिरों का निर्माण राजा यशोवर्मन व धंग के समय किया गया है

बुद्ध स्मारक

यह मध्यप्रदेश के रायसेन जिले के सांची में स्थित है सन 1989 में यूनेस्को द्वारा इसे विश्व धरोहर के रूप में मान्यता दी गई थी यह बहुत सारे बौद्ध स्मारक है जो तीसरी शताब्दी से 12वी शताब्दी के बीच मे है

भीमबेटका रॉक आश्रय

यह भी मध्यप्रदेश के रायसेन जिले के भीमबैठका नामक स्थान पर स्थित है सन 2003 में इसे विश्व धरोहर सूचि में शामिल किया गया था इसमें 7 पहड़िया व 750 से अधिक रोक शेटलर शामिल है यह भीम (महाभारत) के बैठने की जगह के भीतर रॉक पेंटिंग के लिए प्रसिद्व है

दिल्ली के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

हुमायूं का मकबरा

यह भारत की राजधानी दिल्ली में स्थित है और इससे वर्ष1993 में विश्व धरोहर सूची के शामिल किया गया थाज़ इस मकबरे में चारबाग शैली है जो भारतीय उपमहाद्वीप के प्रथम उदाहरण बनी और लाल बलुआ पत्थरो का प्रयोग सबसे पहले यही पर किया गया था

कुतुब मीनार

यह भी भारत की राजधानी दक्षिण दिल्ली के महरौली भाग में स्थित है जो पूरी तरह से ईंटो का बना हुआ है इसकी ऊंचाई 72

लाल किला

.5 मीटर है इसे वर्ष 1993 के यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर घोषित किया गया था इसे 1193 ईसवी में दिल्ली के प्रथम मुस्लिम शासक कुतुबुद्दीन ऐबक ने आरम्भ करवाया था जिसे बाद में इल्तुतमिश व फिरोजशाह तुगलक ने इसे पूरा करवाया था

लाल किला

यह भी भारत की राजधानी दिल्ली में स्थित है इसका निर्माण मुगल शासक शाजहाँ ने करवाया था यह पूरी तह से लाल बलुआ पत्थर से निर्मित है औऱ दीवारों पर लाल रंग किया गया है वर्ष 2003 के इसे विश्व धरोहर सूची के शामिल किया गया था

पश्चिमी बंगाल के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान

यह पश्चिम बंगाल के दक्षिण में स्थित डेल्टा नदी के किनारे पर स्थित है यहाँ सुंदरी नाम के वृक्ष पाय जाते है इसीलिए इसका नाम सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान पड़ा इसके आस पास का क्षेत्र मैंग्रोव के घने जंगलों से घिरा हुआ है यह राष्ट्रीय उद्यान रॉयल बंगाल टाइगर के सबसे बड़ा सरंक्षित क्षेत्र है इसे 1987 में युनेस्को में विश्व धरोहर सूची मव शामिल किया गया और 2003 में रामसर स्थल में शामिल किया गया

भारतीय पर्वतीय रेल व दार्जलिंग पर्वतीय रेल

यह पश्चिम बंगाल राज्य में स्थित है यह रेलवे सिलीगुड़ी व दर्जलिङ्ग के बीच स्थित है इसे टॉय ट्रेन के नाम से भी जाना जाता है इसे 1999 मे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया था 

बिहार के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

नालन्दा

यह बिहार राज्य में स्थित है और वर्ष 2016 में विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया था प्रसिद्ध चीनी यात्री ह्वेनसांग ने 7 वीं शताब्दी में इस विश्वविधालय मे  एक विद्यार्थी और एक शिक्षक के रूप एक साल समय बितया था, प्रसिद्ध बौद्ध सरिपुत्र का जन्म यही पर हुआ था

महाबोधि मंदिर

यह बिहार राज्य के गया जिले में बोधगया में स्थित है इस मंदिर का निर्माण सम्राट अशोक ने करवाया था इसी मंदिर में बोधि वृक्ष है जहां महात्मा बुद्ध ने ज्ञान की प्राप्ति की थी, इसे 2002 में विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया

Unesco World Heritage in India

राजस्थान के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

केओलादेव

यह राष्ट्रीय उद्यान राजस्थान राज्य के भरतपुर मे स्थित है यह एक पक्षी अभयारण्य उद्यान है इसे 1972 मे पक्षी अभयारण्य घोषित किया गया और वर्ष 1985 को इसे विश्व धरोहर के रूप मे घोषित किया गया यह राष्ट्रीय उद्यान मानव निर्मित व मानव पप्रबंधित आद्रभूमि है यह भारत के प्रमुख उद्यान मे से एक है 

जंतर मंतर

यह राजस्थान के जयपुर मे स्थित है इसका निर्माण जयपुर नगर के संस्थापक राजा सवाई जय सिंह ने 1734 मे पूरा करवाया था यह एक खगोल वैज्ञानिक भी थे यह एक खगोलीय वेदशाला है जिसमे 14 प्रमुख यंत्र है वर्ष 2010 मे इसे विश्व यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर की सूची मे शामिल किया गया

पहाड़ी किले

यह राजस्थान के 6 पहाड़ी किले द्वारा प्रसिद्ध है इसमें चित्तौड़गढ़, कुंभलगढ़, रणथंभौर किला, गागरोन किला, अंबर किला और जैसलमेर  किले शामिल हैं, इसे 2013 मे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया था

गुलाबी शहर

यह पिनकी सिटी के नाम से भी जाना जाता है इसे 2019 मे यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर घोषित किया गया था

गुजरात के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

चम्पानेर पावागढ़ पुरतत्व पार्क

यह गुजरात राज्य के पंचमहल जिले मे स्थित है इसे 8 वी शतबादी के राजा वनराज चावडा ने बनवाया था और 2004 मे इसे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया था

रानी की वाव (रानियाँ कुएं)

यह गुजरात राज्य के पाटन ने स्थित सर्वती नदी के पास है जिसका निर्माण राजा भीम देव की पत्नी रानी उद्यामती ने बनवाया था और 2014 को इसे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया था

पश्चिमी घाट

वर्ष 2012 में इसे विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया और  पश्चिमी घाट विश् में जैविक विविधता के 8 हॉट स्पॉट में से एक है पश्चमी घाट गुजरात व महराष्ट्र की सीमा से शुरू होती है जो कर्नाटक, केरल, गोवा, तमिलनाडू, महाराष्ट्र से कन्याकुमारी तक समाप्त हो जाती है इसकी कुल लंबाई 1600 किमी है

यह विश्व के दस “हॉटेस्ट बायोडायवर्सिटी हॉटस्पॉट्स” के लिए प्रसिद्ध है

हड़प्पा कालीन स्थल धोलावीरा

यह गुजरात मे खादिर  के शुष्क द्वीप पर स्थित है , यह दक्षिण आशिया की शहरी बस्तियों मे एक है हाल ही मे इसे 2021 यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर घोषित किया गया है

Unesco World Heritage in India

असम के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

कंचनजंगा(मिश्रित )राष्ट्रीय उद्यान

यह भारत के असम  राज्य मे गोलाघाट व नागांव  जिले मे स्थित है यह उद्यान विश्व मे एक सिंग वाले गैंडों के लिए प्रसिद्ध है इसे 2008 मे टाइगर रिजर्व घोषित किया गया और 1985 मे इसे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया  अपने जीव-जंतुओं और वनस्पतियों के लिए प्रसिद्ध है, जहां हिम तेंदुए कभी-कभार देखे जाते हैं।

मानस

यह असम  राज्य मे स्थित है यह वन्यजीव अभ्यारण्य एक राष्टीय उद्यान है इसे 1985 मे विश्व धरोहर घोषित किया गया और और 1973-74 मे इसे टाइगर रिजर्व घोषित किया गया इस वन्यजीव अभ्यारण्य मे भारतीय गैंडा, बारहसिंघा, हपीड खरगोश  और गोल्डन लंगूर पाए जाते है

चंडीगढ़ के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

वास्तुकला कार्य ले कॉर्बूसियर

यह चंडीगढ़ के सेक्टर 1 मे स्थित है और यह लगभग 100 एकड़ मे फैला हुआ है जिसमे सचिवालय, उच्च न्यायालय , विधानसभा, ज्यामितीय पहाड़ी व झील शामिल है यह ले कॉर्बूसियर द्वारा डिजाइन किया गया है इसे 2016 मे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया है

उत्तराखंड के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

नंदा देवी मंदिर

नंदा देवी

यह उत्तराखंड के नंदा देवी पहाड़ी पर स्थित है यह फूलों की घाटी के लिए भी जानी जाती है 1998 मे राष्टीय उद्धयान घोषित किया गया और 2005 मे इसे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया यहाँ पर काले व भूरे भालू, नीले रंग भेड़े आदि पाई जाती है

हिंमाचल प्रदेश  के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

कालका शिमला रेल

इस रेल को 1903 मे शुरू किया गया था इसे 2008 मे यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया था यह कालका से लेकर शिमला तक चलती है

हिमालयी राष्ट्रीय उद्यान

यह हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले मे स्थित है  यह लगभग 375 पशु प्रजातिया जैसे नीली भेड़े , हिम तेंदुआ, भूरे भालू, हिमालयन ताहर, कस्तूरी मृग आदि पाए जाते है इसे 1999 मे राष्टीय उद्यान घोषित किया गया और 2014 मे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया

 

सिक्किम के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

खांगचेंदज़ोंगा राष्टीय उद्यान

यह सिक्किम राज्य मे स्थित है इसे 1977 मे बनाया गया था इस राष्टीय उद्यान मे हिम तेंदुआ, भूरे भालू, हिमालयन ताहर, जगली गधा, लाल पांडा, काकड़ आदि पाए जाते है 2016 मे इसे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया था इस उद्यान मे तीन प्रमुख प्रकार क वन पाए जाते है पतझड़ी वन, शंकुधारी वन, अल्पाइन घास

तेलंगाना के विश्व धरोहर स्थल(Unesco World Heritage in India)

काकतीय रुद्रेश्‍वर मंदिर

इसे रामप्‍पा मंदिर के नाम से भी जाना जाता है यह पालममेट गाँव मे स्थित है इसे हाल ही मे 2021 मे विश्व धरोहर सूची मे शामिल किया गया है  इस मंदिर का निर्माण 1213 मे शुरू हुआ था जो लगभग 40 से 50 वर्षों तक जारी रहा

अन्य महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर(Unesco World Heritage in India)

Unesco का पूरा नाम  क्या है= संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन (United Nations Educational Scientific and Cultural Organization)

 

Unesco की स्थापना कब हुई: 16 नवंबर 1945

 

Unesco का मुख्यालय कहाँ पर है: पेरिस, फ्रांस

 

विश्व धरोहर स्थल कब मनाया जाता है: 18 अप्रैल

 

भारत का पहला विश्व धरोहर स्थल कौन सा है: अजंता की गुफाये व आगरा का किला

 

भारत का केवल मिश्रित विश्व धरोहर स्थल कौन सा है: कंचनजंगा पार्क सिक्किम

 

भारत मे कुल कितने विश्व धरोहर स्थल है: 40

 

हाल है मे कितने विश्व धरोहर स्थलों को शामिल किया गया है: 2 (कालेश्वर (रामप्पा) मंदिर, तेलंगाना व धोलावीरा, गुजरात जुलाई 2021 मे विश्व सूची मे शामिल किया गया है

 

प्रिय पाठकों, आशा करते है की हमारे द्वारा दी गई जानकारी Unesco World Heritage in India से आप संतुष्ट होंगे और अधिक जानकारी देखने के लिए जुड़िये हमारे साथ

5 2 votes
Article Rating

About Writer

Kajla

Web Designer at Help2Youth

Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Related Posts

  • Father of Different Fields for Most Important Notes (विभिन्न क्षेत्रों के जनक व पितामह)

    Father of Different Fields

    प्रिय पाठकों, आज हम आपके लिए लेकर आये है Father of Different Fields for Most Importants Notes (विभिन्न क्षेत्रों के जनक व पितामह) के बारे विस्ततृ जानकारी, ये जनक विभिन्न क्षेत्रों से सम्बंधित है जो आपके आने वाले किसी भी एग्जाम के लिए महत्वपूर्ण हो सकते हक़ी तो आइए पढ़ते है Father of Different Fields (विभिन्न क्षेत्रो के जनक व पितामह) के बारे में

  • भारत एक नजर मे (India at a Glance)

    प्रिय दोस्तों, आज हम आपके लिए लेकर आए है भारत एक नजर मे(India at a Glance) की महत्वपूर्ण जानकारी, ताकि आप अपने देश के बारे मे जान सके और पहचान सके कि हमारे देश मे क्या क्या है इसके साथ ही इनमे से कुछ प्रशन उत्तर हर पेपर मे पूछे जाते है

  • भारत की प्रसिद्ध नदियां ( Famous Rivers of India)

    भारत की प्रसिद्ध नदियां ( Famous Rivers of India)

    प्रिय पाठकों, आज हम आपके लिए लेकर आये है भारत की प्रसिद्ध नदियां ( Famous Rivers of India) के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी, प्रसिद्ध नदियों में कोई न कोई प्रश्न हर एग्जाम में पूछा जाता है इसीलिए हम आपको इसके बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देंगे, अगर भारत की प्रसिद्ध नदियां ( Famous Rivers of India) से सम्बंधित कोई जानकारी आपके पास है तो आप हमें कॉमेंट कर सकते है

Join Group Share Share Join Group Visit
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x